Home देश जब हमने अपने अधिकारों को हासिल करने की लडाई लड़ रहे थे,...

जब हमने अपने अधिकारों को हासिल करने की लडाई लड़ रहे थे, तब मुसलमानों ने हमारा साथ दिया थाः वामन

SHARE

नई दिल्ली – बामसेफ के अध्यक्ष वामने मेश्रा ने दंगा करने वाले ओबीसी, और दलित समाज को नसीहत दी है। उन्होंने कहा है कि मुसलमानों के विरोध में दंगे-फसाद करने वाले OBC, SC, ST के लोगों को मै कहना चाहता हूँ कि इतिहास में जब हमें बडे अधिकार हासिल करने की लडाई हो रही थी, तब मुसलमानों ने हमारा साथ दिया था, इस बात को हम लोगों को नहीं भुलना चाहिए।

उन्होंने कहा कि सरकार के पैसे और ताकत के भरोसे पर सामाजिक क्रांति नही हो सकती। अगर अपना नेतृत्व,पैसा,हुनर,समय तथा बुद्धि हो तो निश्‍चित रुप से सामाजिक क्रांति होगी। यही महत्त्वपूर्ण कार्य राष्ट्रपिता फुले और डा.बाबासाहब अम्बेडकर ने किया और सामाजिक क्रांति कर दिखायी। हमे उनकी ही राह पर चलना होगा।

उन्होंने समाजिक न्याय की लड़ाई लड़ने वाले संगठन इंसाफ इंडिया की तारीफें करते हुए कहा है कि बामसेफ के केंद्रीय कार्यालय में ‘इंसाफ इंडिया’ संगठन के राष्ट्रीय पदाधिकारीयों के साथ एक महत्वपुर्ण बैठक हुई. भारत में मज्लुमों का इत्तेहाद और देश में इंसाफ कायम करने के लिए इंसाफ इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष मा. मुस्तकिल सिद्दीकी जी ने अपना संगठन भारत मुक्ती मोर्चा में विलिन करने कि घोषणा की.

उन्होंने कहा कि  मै इंसाफ इंडिया के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ताओं का आभार व्यक्त करता हूँ की उन्होंने देश में मज्लुमों का इत्तेहाद कायम करने के लिए ये पहल की है. हमारी ऐसी बढती एकता देश में इंसाफ कायम करेगी. उन्होंने मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के प्रवक्ता मौलाना सज्जाद नौमानी का भी समर्थन किया है।

उन्होंने कहा कि मौलाना सज्जाद नोमानी जी देश मे मज्लुमो की एकता कायम करने का काम कर रहे है.उन्हे इस काम से रोकने केलिए उनपर फर्जी FIR दाखिल किया गया है.ऐसे कठिण समय पर बामसेफ,भारत मुक्ती मोर्चा और सभी ऑफशुट संगठन मा.नोमानीजी के साथ है आप भी इस अभियान से जुडकर अपना समर्थन जाहिर करे.