Breaking News
Home / देश / तेजस्वी का RSS पर हमला, कहा ‘संघियों का देश को आज़ाद कराने में नहीं ग़ुलाम रखने में योगदान था।’

तेजस्वी का RSS पर हमला, कहा ‘संघियों का देश को आज़ाद कराने में नहीं ग़ुलाम रखने में योगदान था।’

नई दिल्ली – बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम और राजद के युवा नेता तेजस्वी यादव ने एक बार फिर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर निशाना साधा है। तेजस्वी ने कहा है कि  बिहार में लोकतंत्र सिसक रहा है। लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ मीडिया को नीतीश के पदाधिकारी धमकी दे रहे हैं कि अगर तेजस्वी के कार्यक्रमों का कवरेज किया तो विज्ञापन नहीं मिलेगा।

तेजस्वी ने कहा कि नीतीश जी इतने असहाय,बेबस और लाचार है कि 28 साल के नौजवान को रोकने के लिए मीडिया को डरा रहे है। उन्होंने कहा कि नीतीश जी हर सोमवार को बिना पूछे बोलते रहते है मैं मीडिया की स्वतंत्रता का हिमायती हूं क्योंकि यह बोलकर अपना पाप छुपाते है।

उन्होंने कहा कि बिहार में मीडिया पर अघोषित आपातकाल है। जो नीतीश जी के कहे अनुसार नहीं चलेगा उसे नौकरी से हटवा दिया जाएगा। विज्ञापन बंद कर दिया जाएगा। तेजस्वी ने नीतीश के उस कथन पर भी तंज किया है जिसमे उन्होंने कहा था कि मैं केवल बिहार का मुख्यमंत्री हूं, NDA गठबंधन का नेता नहीं, मुखिया नहीं।

तेजस्वी ने तंज करते हुए कहा है कि महागठबंधन में आप (नीतीश) सीएम नहीं बड़े नेता थे। है ना! आपके चाबी वाले तोते बोलते थे आपके चेहरे पर ही बारात निकली है। इंतज़ार किजीए थोड़े दिन में आप गठबंधन के मुख्यमंत्री भी नहीं रहेंगे। फल मिलेगा।

उन्होंने आरएसएस पर भी निशाना साधा है और कहा है कि मोहन भागवत में हिम्मत है तो डोक़लाम में भेज दें संघियों को। क्यों बिल में छुपे है? चीनी हमारे देश में घुसे हुए है। पाकिस्तानी प्रतिदिन हमला करते है। सेना और सैनिकों का अपमान बंद कर अपनी निक्कर गैंग को वहां भेजे। थूक के पकौड़े ना उतारे।

उन्होंने सवाल किया है कि किसी एक संघी का नाम बताओ जो सीमा पर शहीद हुआ हो या उसके परिवार से कोई शहीद हुआ हो। सेना का अपमान करना बंद करों। संघियों का देश को आज़ाद कराने में नहीं ग़ुलाम रखने में योगदान था।

Check Also

विशेषः क्या शिवाजी सच में मुसलमान विरोधी थे ?

राम पुनियानी शिवाजी, जनता में इसलिए लोकप्रिय नहीं थे क्योंकि वे मुस्लिम विरोधी थे या …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *