Home विदेश भारत में महिला सुरक्षा को लेकर अमेरिका ने जताई चिंता, राजेन्द्र चौधरी...

भारत में महिला सुरक्षा को लेकर अमेरिका ने जताई चिंता, राजेन्द्र चौधरी बोले ‘BJP के लिये इससे ज्यादा शर्मा की और क्या बात होगी?’

SHARE

लखनऊ – समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव राजेंद्र चौधरी ने कहा है कि धर्म, संस्कृति और सभ्यता के बड़े-बड़े दावे करने वाली भारतीय जनता पार्टी के राज में महिलाओं और बच्चियों को सर्वाधिक अपमानित और नारकीय जीवन जीने को बाध्य होना पड़ रहा है। कोई दिन ऐसा नहीं जाता जब प्रदेश में किसी न किसी जनपद में महिलाओं और बच्चियों के साथ बलात्कार, अपहरण और हत्या की घटनाएं न घटती हों। हालत तो अब इतने खराब हो गए हैं कि अमेरिका के ट्रंप प्रशासन ने महिलाओं के प्रति भारत में अपराधिक मामलों में चिंता जताते हुए अपने देश की महिलाओं को सतर्कता बरतने को कहा है।

उन्होंने कहा कि भाजपा के लिए इससे बड़ी शर्म की और क्या बात होगी। अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर इतनी बदनामी पहले कभी नहीं हुई। उत्तर प्रदेश में भाजपा के सत्ता में आते ही कानून व्यवस्था बुरी तरह ध्वस्त हुई है। अपराधी बेखोफ हैं और प्रशासनतंत्र पंगु बना हुआ हैं। लोग दहशत में जी रहे हैं। दिन दहाड़े अपहरण, लूट और हत्याएं हो रही है।

पूर्व मंत्री ने कहा कि मेरठ, बुलंदशहर, नोएडा, लखीमपुरखीरी, गाजीपुर, फतेहपुर, कन्नौज, बदायूं और लखनऊ जनपदों में एक हफ्ते के अंदर ही तमाम ऐसी घटनाएं हुई है जिसमें किशोरियों और बच्चियों के साथ दुष्कर्म और उनकी हत्याएं तक हुई हैं। शामली जनपद में एक कश्यप किशोरी को कालेज से घर लौटते समय दबंगों ने पीट-पीटकर मार डाला। कई घटनाओं में तो पुलिस सुरक्षा प्रदान करने के बजाय स्वयं ही अपराध में शामिल पायी जाती है।

उन्होंने कहा कि अब तो हालात इतने खराब हो गए है कि छात्राएं स्कूल-कालेज में पढ़ने जाते हुए डरती है। कानून-व्यवस्था की स्थिति नियंत्रण के बाहर चली गयी है। सपा नेता ने कहा कि प्रदेश में अपराध का ग्राफ बराबर बढ़ता जा रहा है। लड़कियों से छेड़खानी के मामले में 9 महीनों में ही 2 लाख 21 हजार शिकायतें 1090 वूमेन पावर लाइन में दर्ज की गई हैं। बरेली में महिला खिलाड़ियों के साथ दुष्कर्म की शिकायतें आई हैं। महिला पुलिस कर्मी भी अब अपमानित होने से नहीं बच पा रही हैं।

राजेन्द्र चौधरी ने कहा कि शोहदों का आतंक उन पर भी है। खुलेआम किशोरियों को अराजकतत्व अपनी गाड़ियों में घसीट कर अपहृत कर रहे हैं और पुलिस उन पर अंकुश लगाने में नाकाम रही। भाजपा सरकार इस सबसे संवेदनहीन बनी हुई है। भाजपा सरकार ने यूपी 100 का कारगर इस्तेमाल नही किया। श्री अखिलेश यादव ने जो व्यवस्था महिलाओं की सहायता और सहयोग के लिए बनायी थी उसे भी भाजपा शासन बर्बाद कर दिया है।