Breaking News
Home / पड़ताल / राजस्थान की CM वसुंधरा राजे के नाम क़ासिम मेवाती का खुला ख़त, ‘मोहतरमा ऐसा लगता है कि प्रदेश गृह युद्ध की तरफ बढ़ रहा है’

राजस्थान की CM वसुंधरा राजे के नाम क़ासिम मेवाती का खुला ख़त, ‘मोहतरमा ऐसा लगता है कि प्रदेश गृह युद्ध की तरफ बढ़ रहा है’

मुख्यमंत्री महोदया

अलवर के एक विधायक जो अलवर शहर से वर्तमान सत्तारूढ़ भाजपा के निर्वाचित सदस्य हैं। उनकी भाषा ने आपकी सरकार की सोच की पोल खोल कर रख दी है। आपके इस बिगड़े ओर बेहूदे विधायक ने सस्ती लोकप्रियता के लिए तमाम मर्यादाओ को कुचल कर रख दिया। क्या इस तरह बेलगाम होते आपके विधायक बदमस्तिया करते रहेंगे ?

मोहतरमा, भारत देश हमारा है। हम इसी मिट्टी में सजदा करके अपने परवरदिगार की इबादत करते हैं। इस तरह के बोलना कि ‘मुसलिम देश की आबादी बढ़ा रहे हैं।या फिर ओर बड़ी बड़ी बेहूदगी शर्मनाक हरकत है। याद रहे और ज्ञात रहे। “जब आदमी सच और झूट में भेद करने में कामयाब नही रहता तो वह कुछ भी कर सकता है  और अपने किये को उचित ठहरा सकता है |हलाकि किसी भी आधार पर वैमनस्य, पक्षपात , और अन्याय को उचित नही ठहराया जा सकता, इस भावना के कारण अशांति और हिंसा फैलती है ,हत्या होती हैं और युद्ध होते है।”

पिछले दिनों वे राजस्थान के राजसमन्द में अशरफुल का क़त्ल हो या फिर अलवर में पहलू हत्याकांड या फिर रामगढ़ में उमर की हत्या, इनसे हमे लगता हैं कि वर्तमान सरकार ने अशांति ,हिंसा,और हत्या  तक का लक्ष्य पा लिया है. और अब हम किसी युद्ध की तरफ अग्रसर है.

मोहतरमा,  विधायक शहर बनवारी लाल के बिगड़े बोल और बेहूदा टिपण्णी जो मुसलमानों के लिए दिया गया है। बेहद दुर्भाग्यपूर्ण और निंदनीय है। क्या इस तरह की ओछी हरकतें करने वाले अलवर जिले के भारतीय जनता पार्टी के विधायक सविधान को इसी तरह कुचल कर कानून से बच जायेंगे। बनवारी लाल को पार्टी से निस्पक्षता से निष्कासित करने का श्रम करे।ताकि इस प्रजान्त्रिक ओर स्वराज की लाज आप द्वारा बचाई जा सके। इस तरह के आचरण वाले व्यक्ति को किसी भी समाज और एक क्लंक ही माना जायेगा।

मुस्लिमों की आबादी को लेकर उठाए गये सवाल! इस दूषित कुत्सित मानसिक रोगी को सरकार और समाज दोनों को ही नुकसान तो है साथ ही देश को भी इस तरह के लोगो से भारी खतरा है। आज आप जनभागीदारी और जनभावनाओं के आदर सम्मान की बात अगर करती है तो सार्वजनिक रूप से इसका कान भी उसी तरह पकड़े जिस तरह आपने पिछले दिनों अपनी पार्टी के एक विधायक जी तिजारा अलवर से ही वर्तमान में है।उनका कान भरी सभा मे पकड़ कर सबके बीच उसे लताड़ा।इस बनवारी को भी आप अलवर के दौरे पर आकर इसे लताड़े ओर इसे उसी तरह खदेड़े जिस तरह विधायक मामन यादव को लताड़ा गया।

महोदया! इस समय अलवर के उपचुनाव को लेकर तरह तरह की भ्रांतियां और भय फैलाने का कार्य आपके इन बेहूदे प्रतिनिधियो द्वारा किया जा रहा है। जबकि भय और भ्रांति से कोई ना तो क्रांति होगी और ना ही कोई नामर्द योद्धा बन जायेगा। गाय को लेकर गवार की तरह बक बक करने वाला रामगढ़ विधायक ज्ञान देव भी बार बार इस तरह सविधान ओर कानून को कुचलकर निकल जाता ह।ये वर्तमान सरकार की हताशा निराशा और नाकामी के प्रतीक है।

मेरा निवेदन है कि आप इनको सर्व धर्म का सम्मान करने की नसीहत दे।और इनका कोई भी बयान कब बवाल बन जाये। ये हम सभी अलवर के लोगो को भारी आशंका हैं। आप तुरन्त इस पर संज्ञान लेकर इनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही सुनिश्चित करके मानवतावादी सिद्धांतो को बचाने का कष्ट करें।

धन्यवाद

मोहम्मद कासिम मेवाती

 प्रवक्ता

मेव पंचायत मेवात

Check Also

AAP संकट पर रवीश कुमार का लेखः बकवास और बोगस मुद्दा है लाभ के पद का मामला

Share this on WhatsAppरवीश कुमार हर सरकार तय करती है कि लाभ का पद क्या …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *