Breaking News
Home / विदेश / फिलिस्तीनः अमेरिका के खिलाफ फिलिस्तीनियों का गुस्सा चरम पर, बैतुलमुकद्दस के लिये लगातार हो रहे हैं प्रदर्शन

फिलिस्तीनः अमेरिका के खिलाफ फिलिस्तीनियों का गुस्सा चरम पर, बैतुलमुकद्दस के लिये लगातार हो रहे हैं प्रदर्शन

नई दिल्ली – गाजा पट्टी के निवासी फ़िलिस्तीनियों ने ग़ज़्ज़ा के मशहूर स्क्वायर पर जबरदस्त प्रदर्शन करके बैतुल मुक़द्दस के बारे में अमरीका और इजरायली शासन के फैसले की निंदा की है। प्रदर्शनकारियों ने इसी तरह फ़िलिस्तीनी प्रशासन और पीएलओ की केन्द्रीय परिषद से इजरायली शासन के साथ सुरक्षा समझौता तोड़ने की मांग की।

फ़िलिस्तीनी प्रदर्शनकारियों ने इसी तरह अरब और मुस्लिम देशों से मांग की है कि वह बैतुल मुक़द्दस के समर्थन में व्यवहारिक क़दम बढ़ाएं। इसी मध्य ग़ज़्ज़ा पट्टी में इजरायली सैनिकों की फ़ायरिंग में एक फ़िलिस्तीनी नौजवान घायल हो गया। रिपोर्टों में बताया गया है कि इजरायली सैनिकों ने ग़ज़्ज़ा पट्टी में इजरायल के फ़ैसले के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे फ़िलिस्तीनियों पर आंसू गैस के गोलों से हमला किया जिससे कई फ़िलिस्तीनियों को दम घुटने की शिकायत हुई।

बैतुल मुक़द्दस में भी हज़ारों फ़िलिस्तीनियों ने जुमे की नमाज़ के बाद बैतुल मुक़द्दस के बारे में अमेरिकी राष्ट्रपति के फ़ैसले के खिलाफ व्यापक प्रदर्शन किए। मस्जिद ए अक़्सा के इमामे जुमा शैख़ यूसुफ़ अबू सनीना ने कहा कि बैतुल मुक़द्दस के बारे में अमरीका का फैसला अत्याचारपूर्ण है और इस फ़ैसले की कोई अहमियत नहीं है और यह फ़ैसला फ़िलिस्तीनियों को मंजूर नहीं है। अल ख़लील और जार्डन नदी के पश्चिमी तट में भी हज़ारों फ़िलिस्तीनियों ने बैतुल मुक़द्दस के समर्थन में प्रदर्शन किए। प्रदर्शनकारियों ने अतिग्रहणकारियों के फ़िलिस्तीनी धरती पर उपस्थिति को नकार दिया।

गौरतलब है कि बीते साल पांच दिसंबर को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने फैसला किया था कि इजरायल की राजधानी बैतुल मुकद्दस (यरूशलम) होगी। उनके इस फैसले के बाद दो दुनियां दो हिस्सो में बंट गई थी, संयुक्त राष्ट्र संघ में अमेरिका को मुंह की खानी पड़ी जब भारत समेत दुनिया के 128 देशों ने अमेरिका के फैसले खिलाफ मतदान किया था।

Check Also

फिलिस्तीनः देखें वीडियो और महसूस करें फिलस्तीनी कवियत्री रफीक जियादह के इस दर्द को!

Share this on WhatsAppअपने विश्वविद्यालय में, फिलिस्तीन पर इस्राइली हमलो के विरोध में एक प्रदर्शन …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *