Home देश मुफ्ती अशफाक़ क़ादरी बोले ‘इज़रायल के PM का भारत आना इस अज़ीम...

मुफ्ती अशफाक़ क़ादरी बोले ‘इज़रायल के PM का भारत आना इस अज़ीम मुल्क की ज़मीन को गंदा करने जैसा’

SHARE

नई दिल्ली – इजरायल एक ऐसा देश रहा है जिसे भारत ने कभी कोई विशेष महत्तव नही दिया। लेकिन केन्द्र में मोदी सरकार आने के बाद इजरायल के साथ लगातार रिश्ते मजबूत करने की कोशिश जारी है। इसी कवायद को आगे बढ़ाते हुए इजरायन के प्रधानमंत्री बिनजामिन नेतन्याहू 15 जनवरी को भारत आ रहे हैं। वे 18 जनवरी तक भारत में रहेंगे। उनकी इस यात्रा का विरोध शुरू हो गया है।

ऑल इंडिया तंजीमुल इस्लाम के अध्यक्ष मुफ्ती कादरी ने इजरायल के पीएम की भारत यात्रा का विरोध जताया है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार यह भूल रही है कि भारत ने इजरायल को कभी महत्तव नहीं दिया था, भारत हमेशा पीड़ित फिलिस्तीन के साथ रहा है। और अरब देशों का सदियों से दोस्त रहा है। लेकिन मिस्टर मोदी इजराय के पीएम को भारत बुलाकर उस परंपरा को तोड़ रहे हैं।

नेशनल स्पीक के साथ बात करते हुए मुफ्ती अशफाक कादरी ने कहा कि हमें नहीं भूलना चाहिये कि इजरायल ने मासूम फिलिस्तीनियों का खून बहाया है, उन पर जुल्म किया है और उन्हीं की जमीन को कब्जा रखा है। ऐसे शख्स का भारत में आना भारत की पवित्र जमीन को गंदे करने जैसा है। उन्होंने कहा कि हम इजराय के प्रधानमंत्री की भारत यात्रा का विरोध करते हैं। और भारत सरकार से सवाल करते हैं जब भारत संयुक्त राष्ट्र संघ में इजराय के खिलाफ वोट करना और भारत की जमीन पर इजरायल के पीएम का स्वागत करना आखिर ये दोहरी नीति क्यों है?

उन्होंने कहा कि भारत के साथ इजरायल की दोस्ती का खामियाजा भारत को किसी न किसी रूप में भुगतना पड़ सकता है। उन्होंने कहा कि भारत के मुस्लिम देशों के साथ सदियों से बहुत करीबी संबंध रहे हैं, भारत के अरबों के साथ भी बेहतर संबंध रहे हैं। ऐसे में अगर भारत इजरायल के साथ दोस्ती करता है तो वे रिश्ते प्रभावित हो सकते हैं।

मौलाना अशफाक कादरी ने कहा कि इजरायल एक जालिम देश है, जहां एक जालिम सरकार है उसके साथ दोस्ती करने का मतलब है कि एक तरह जुल्म और नाइंसाफी के साथ दोस्ती करना। यह पूछे जाने पर कि क्या भविष्य में भारत फिलिस्तीन के साथ रिश्ते खत्म कर सकता है, इस पर उन्होंने कहा कि नहीं ऐसा संभव नही है।