Breaking News
Home / देश / लाऊड स्पीकर विवादः मूसा कासमी बोले ‘न घबरायें न मुद्दा बनायें बल्कि प्रशासन से लाऊड स्पीकर की इजाजत लें’

लाऊड स्पीकर विवादः मूसा कासमी बोले ‘न घबरायें न मुद्दा बनायें बल्कि प्रशासन से लाऊड स्पीकर की इजाजत लें’

मुजफ्फरनगर/चरथावल – तमाम धार्मिक स्थलों पर लाउडस्पीकर का इस्तेमाल करने के लिये परमिशन लेने का फैसला हाईकोर्ट का है जिसका सम्मान करते हुये सभी को मस्जिदों में लाउडस्पीकर के इस्तेमाल के लिये ज़िला प्रसाशन से इजाज़त ज़रूर लेनी चाहिये, उन्होंने कहा कि कोई ऐसा मुद्दा नही है जिस पर परेशान हों, बहुत सुकून के साथ कागज़ी कार्यवाही पूरी करके अनुमति हासिल करलें,जमीअत के कार्यकर्ता हर जगह सहयोग करेंगे। उक्त विचार हाफिज़ मुहम्मद फुरकान असअदी ने चरथावल थाना वाली मस्जिद में आयोजित मीटिंग में व्यक्त किए।

जमीअत उलमा मुज़फ्फरनगर की एक मीटिंग चरथावल थाना वाली मस्जिद में आयोजित हुई जिसमे धार्मिक स्थलों के लिये परमिशन लेने के हाईकोर्ट के आदेश के सम्बंध में चर्चा हुई मीटिंग की अध्यक्षता जमीअत के हाफिज़ मुहम्मद फुरकान असअदी ने की जबकि संचालन ज़िला सचिव मौलाना मूसा क़ासमी ने किया मीटिंग की शुरुआत मुफ़्ती मुहम्मद इनाम की तिलावत ए कलाम पाक व शायर अब्दुल कलाम की नात शरीफ से हुआ।

मीटिंग में चरथावल छेत्र से सैकड़ों उलेमा, मस्जिदों के इमाम,मुवल्ली लोग शरीक हुये, हाफिज़ मुहम्मद फुरकान असअदी ने सम्भोदित करते हुये कहा कि तमाम धार्मिक स्थलों पर लाउडस्पीकर का इस्तेमाल करने के लिये परमिशन लेने का फैसला हाईकोर्ट का है जिसका सम्मान करते हुये सभी को मस्जिदों में लाउडस्पीकर के इस्तेमाल के लिये ज़िला प्रसाशन से इजाज़त ज़रूर लेनी चाहिये, उन्होंने कहा कि कोई ऐसा ईशु नही है जिस पर परेशान हों, बहुत सुकून के साथ कागज़ी कार्यवाही पूरी करके अनुमति हासिल करलें,जमीअत के कार्यकर्ता हर जगह सहयोग करेंगे।

प्रदेश उपाध्यक्ष मौलाना जमालुद्दीन क़ासमी ने कहा कि देश के सविंधान ने सभी धर्मों के मानने वालों को धार्मिक आज़ादी दी हुई उसको खत्म करने का अधिकार किसी के पास नही,उन्होंने लाउडस्पीकर इस्तेमाल करते समय अपने आसपास रहने वाले लोगों का अवश्य ख्याल रखें, ज़िलासचिव मौलाना मूसा क़ासमी ने कहा कि जमीअत ने हमेशा देश औऱ क़ौम की सेवा करने को ही अपना फर्ज समझा है ,जब भी ज़रुरत पड़ी जमीअत के ज़िम्मेदारान ने लोगों की और मुल्क की सेवा की है,उन्होंने कहा अब भी जमीअत के कार्यकर्ता पूरा सहयोग देंगे,जमीअत के रहनुमा मौलाना महमूद मदनी की क़यादत में जमीअत हर मसले पर संघर्ष करेगी।

पूर्व चेयरमैन मास्टर इस्लाम ने कहा कि अनुमति लेने वाले फार्म को अच्छे से भरके सम्बंधित अधिकारी को जमा कराये, सभी को इजाज़त ज़रूर लेनी चाहिए हाफिज़ मुहम्मद फुरकान असअदी,मौलाना ज़ाकिर शाही इमाम,मास्टर इस्लाम,मौलाना मूसा क़ासमी, मौलान अहसानुल हक़ क़ासमी,मुफ्ती नसीम,मुफ़्ती खालिद,मास्टर ताज़ीम त्यागी,ड़ॉ0 सयैद आदिल,शमशाद त्यागी,हाजी महरबान, ड़ॉ0 साजिद त्यागी,हाजी अब्दुल कादिर,मौलाना नोशाद,मौलान एहतिशाम,क़ारी शाहनवाज, चौ0 लुक़मान,इब्राहीम,प्रधान मुस्तफा,प्रधान अरशद,मौलाना नदीम,नोमान त्यागी,सरताज,मौलाना अब्दुर रऊफ, मौलाना जाबिर आदी विशेष रूप से मौजूद रहे।

Check Also

पानी ताराम को मिला ‘आदर्श विधायक पुरस्कार’, अरुणाचल प्रदेश में ख़ुशी की लहर

Share this on WhatsAppपुणे, 22 जनवरी – अरुणाचल प्रदेश के कोलोरियांग से युवा विधायक पानी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *