Home खेल रिक्शा चालक के बेटे मोहम्मद सिराज का भारतीय क्रिकेट टीम में चयन,...

रिक्शा चालक के बेटे मोहम्मद सिराज का भारतीय क्रिकेट टीम में चयन, न्यूजीलेंड के खिलाफ करेंगे गेंदबाजी

SHARE

नई दिल्ली – हिन्दी गजल की खोज करने वाले शायर दुष्यंत कुमार का एक शेर है कि कौन कहता है कि आसमान में सूराख नहीं हो सकता, एक पत्थर तो तबीयत से उछालो यारो उनका ये शेर हैदराबाद के नौजवान मोहम्मद सिराज अहमद पर बिल्कुल सटीक बैठता है। रिक्शा चालक के बेटे सिराज अहमद का भारतीय क्रिकेट टीम में चयन हो गया है। निश्चित रूप से उनके लिये ये एक सपने का साकार हो जाने जैसा है।

गर्व है कि अब परिवार की जिम्मेदारी उठा लुंगा

मोहम्मद सिराज अहमद की खुशी का अब कोई ठिकाना नही है, उन्होंने समाचार एजेंसी पीटीआई से बात करते हुए कहा कि ‘‘मुझे गर्व है कि 23 साल की उम्र में मैं अपने परिवार की जिम्मेदारी उठा सकता हूं। जिस दिन मुझे इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का अनुबंध मिला था उस दिन मैंने अपने पापा से कहा था कि अब उन्हें काम करने की जरूरत नहीं है। उस दिन से मैंने पापा को बोला कि आप अभी आराम करो। और हां मैं अपने परिवार को नए घर में भी ले आया हूं।’’

जानकारी के लिये बता दें कि इसी साल आईपीएल में सनराईज हैदराबाद की टीम में मोहम्मद सिराज को जगह मिली थी। वे 60 लाख रूपये में खरीदे गये थे। सिराज का ख्वाब था कि वे अपने पिता मोहम्मद गौस को आगे कभी रिक्शा नहीं चलाने देंगे, और उनका ये सपना इसी साल पूरा हो गया था जब उन्हें आईपीएल में सनराईज हैदराबाद ने खरीदा था।

अब सिराज भारतीय क्रिकेट टीम के लिये चुना गया है वे न्यूजीलेंड के खिलाफ टी -20 मैच में टीम इंडिया के गेंदबाज होंगे। 23 वर्षीय सिराज ने कहा कि, ‘‘मैं जानता था कि भविष्य में मुझे टीम में चुना जाएगा लेकिन इतनी जल्दी चयन होने की मैंने उम्मीद नहीं की थी। मैं आपको बता नहीं सकता कि मैं कितना खुश हूं। जब मैंने अपनी मां और पिताजी को बताया तो उनके पास खुशी व्यक्त करने के लिए शब्द नहीं थे। यह सपना सच होने जैसा है।’’

कोच का कर्जदार हूं

टीम इंडिया में जगह पाने वाले मोहम्मद सिराज ने टीम में चुने जाने के बाद भारतीय टीम के गेंदबादी कोच भरत अरूण का शुक्रिया अदा किया है। उन्होंने कहा कि, ‘‘मैं बयां नहीं कर सकता कि मैं भरत अरूण सर का कितना कर्जदार हूं। सिराज ने कहा कि वे बेहतरीन कोच हैं। पिछले साल वह हैदराबाद टीम के साथ थे और पहली बार मुझे शीर्ष स्तर पर बने रहने के लिए गेंदबाजी से जुड़ी तमाम चीजें सीखी। सिराज ने कहा कि अरूण सर ने मुझे तमाम वैरीएशन के बारे में बताया। इससे मुझे आईपीएल में भी मदद मिली।’’