Breaking News
Home / देश / लाऊडस्पीकर मामलाः जमीयत उलमा हिन्द के लोग लगे हैं मुहिम में, मूसा क़ासमी बोले उर्दू में भरें फार्म

लाऊडस्पीकर मामलाः जमीयत उलमा हिन्द के लोग लगे हैं मुहिम में, मूसा क़ासमी बोले उर्दू में भरें फार्म

मुज़फ्फरनगर यूपी की योगी सरकार ने आदेश जारी किया है कि सभी धार्मिक स्थलों पर लाऊडस्पीकर बजाने के लिये प्रशासन से अनुमती लेनी पड़ेगी। इसी के चलते लोग प्रशासन से लाऊडस्पीकर की इजाजत ले रहे हैं। बता दें कि उत्तर भारत में लाऊडस्पीकर एक ऐसा मुद्दा रहा है जिसे लेकर अक्सर राजनीति और सांप्रदायिकता झड़पें भी होती रही हैं।

लाउडस्पीकर की इजाजत के लिये जमीयत उलमा मुज़फ्फरनगर के ज़िलासचिव मौलाना मूसा क़ासमी के नेतृत्व में चरथावल क्षेत्र के दर्जनो मस्जिदों के ज़िम्मेदार लोगों ने उर्दू भाषा मे अनुमति फार्म उपजिलाधिकारी सदर के कार्यालय में जमा कराये, मालूम हो कि धार्मिक स्थलों पर लाउडस्पीकर के इस्तेमाल के लिये हाईकोर्ट का परमिशन लेने का आदेश आया है।

इस आदेश के बाद सभी धार्मिक स्थलों में नोटिस भी पहुंचे हैं, धार्मिक स्थलों पर लाउडस्पीकर की अनुमति में जमीअत के कार्यकर्ता भरपूर सहयोग दे रहे हैं, इसी सम्बन्ध में उर्दू भाषा मे पार्थना पत्रों पर कार्यवाही के लिये उर्दू अनुवादक कार्यालयों में काम कर रहे हैं। जमीअत के ज़िलासचिव मौलाना मूसा क़ासमी ने कहा कि लाउडस्पीकर की परमिशन ज़रूर लें,और प्रार्थना पत्र उर्दू भाषा मे जमा करायें, क्योंकि उर्दू प्रदेश की दूसरी सरकारी भाषा है।

उन्होंने कहा कार्यालयों में उर्दू अनुवादक काम कर रहे हैं लेकिन असल गलती उर्दू वालो की है क्योंकि जबतक उर्दू में दरख़ास्त नही देंगे कार्यवाही कैसे होगी,उन्होंने कहा कि उर्दू के साथ खिलवाड़ उर्दू वाले ही कर रहे हैं,उर्दू को रोज़मर्रा के कामो में शामिल करना होगा, जमीअत उलेमा हर परेशानी में लोगों के साथ है। इस अवसर पर मौलाना मूसा क़ासमी,मौलाना सलीम अहमद,मुफ़्ती इनाम,शहज़ाद राणा,ड़ॉ0 अरशद, मौलानानोशाद,क़ारी सरफ़राज़ आदि रहे।

Check Also

राजस्थानः एक और बंगाली मजदूर साकिर अली की मौत, जिस्म पर मिले तेजाब से जलने के निशान

Share this on WhatsAppनई दिल्ली –  राजस्थान में पश्चिम बंगाल के एक और मजदूर की …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *