Breaking News
Home / देश / वीडियोः आज़मगढ़ के मोहम्मद रफी हैं अबसार आज़मी, सीधे दिल में उतरी है आवाज़

वीडियोः आज़मगढ़ के मोहम्मद रफी हैं अबसार आज़मी, सीधे दिल में उतरी है आवाज़

अराफात आज़मी

नई दिल्ली – नेपोलियन ने कहा था कि ‘अवसर के बगैर प्रतिभा  की कोई कीमत नही है’ उनकी यह बात अक्सर कई मौकों पर सही साबित हुई है। जिंदगी कभी कभी ऐसे इम्तिहान लेती है कि इंसान बनना कुछ औच चाहता है लेकिन हालात उसे कुछ बनने पर मजबूर कर देते हैं।

एसे ही शख्स हैं अबसार आज़मी आजमगढ़ के डेमरी सरायमीर के रहने वाले अबसार मोहम्मद रफी की तरह गायक बनना चाहते थे लेकिन घर के हालातों की वजह से वे गायक नहीं बन पाये। इसके बावजूद भी उन्होंने अपने हुनर को जारी रखा और आज भी गायकी में जोहर दिखा रहे हैं।

अबसार बताते हैं कि वे मोहम्मद रफी की आवाज के दीवाने थे लेकिन घर वाले नहीं चाहते थे कि वे गायक बनें हालांकि उनकी अम्मी इनके गायक बनने से खुश थीं लेकिन जिंदगी अबसार से कुछ और ही काम लेना चाहती थी। इसी वजह से वे गायकी छोड़ अपनी जरूरतों को पूरा करने में लग गये।

अबसा आज़मी मोहम्मद रफी की आवाज़ में मश्क़ करते थे घर के हालात ने उन्हें आगे बढ़ने नही दिया कभी कभी मुशायरा में कभी कुछ पढ़ते थे आज़मगढ़ में लोकल मूवी बनी ख्वाबों की जीत उसमे उन्होंने दो गाने गाये थे लेकिन फ़िल्म बनाने वालों ने एक पैसा भी नही दिया सिर्फ दिलासा दिया आपको मुम्बई भेजेंगे गाने के लिए इनको कोई सपोर्ट नही किया अबसार आजमी बिजली मैकेनिक का करते हैं।

अबसार आजमी की मोहम्मद रफी का ये मशहूर गीत सुनिये

हमारे संवाददाता ने जब अबसार आजमी से मुलाकात की तो उन्होंने उसे रफी की आवाज़ मे कई बेहतरीन गाने सुनाऐ, अबसार की आवाज़ सीधे दिल में उतरती है। सोशल मीडिया पर पोस्ट किये गये उनके वीडियो को पलक झपकते ही कई हजार लोगों ने देखा है। सोशल मीडिया पर अबसार के वीडियो पर लोगों के कमेंट आ रहे हैं।

सोशल मीडिया पर आने वाले कमेंट अबसार की हौसलाअफजाई के लिये तो काफी हैं, लेकिन भूखा पेट तो रोटी से भरता है जिसके लिये अबसार ने बिजली मैकेनिक का काम करते हैं। रोजमर्रा की जरूरतों को पूरा करने के चक्कर में उनकी प्रतिभा गला घौंट रही है।

Check Also

आचार्य प्रमोद का BJP से सवाल ‘BJP ये क्यों  सिद्ध करना चाहती है, कि जस्टिस लोया की मौत हत्या नहीं है ?’

Share this on WhatsAppनई दिल्ली – आचार्य प्रमोद कृष्णम ने संदिग्ध परिस्थितियों में हुई जस्टिस …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *